संकाय

एनआईआई पुस्तकालय

एनआईआई में अनुसंधान गतिविधियां एक आधुनिक ज्ञान संसाधन केंद्र द्वारा समर्थित हैं जिसमें एक पारंपरिक पुस्तकालय की सामान्य सेवाएं प्रदान करने के अलावा,प्रासंगिक पुस्तकों और पत्रिकाओं के प्रचुर संग्रह, डेटाबेस और प्रोटोकॉल की बड़ी संख्या में ऑनलाइन सदस्यता के साथ एक पूर्ण कम्यूटरीकृत पुस्तकालय और एक सूचना केंद्र शामिल है जिसमें वर्तमान जागरूकता सेवाओं (सीएएस), सूचना के चुनिंदा प्रसार(एसडीआई), अंतर-पुस्तकालय ऋण सुविधा जैसी कई मूल्य वर्धित सेवाएं प्रदान करता है। सन 1982 से इस केंद्र की शुरूआत हुई। एनआईआई पुस्तकालय की स्थापना मुख्यतः संस्थान के वैज्ञानिक स्टाफ और छात्रों की सूचना जरूरतों को पूरा करने के लिए की गई थी। समय बीतने के साथ-साथ, इस पुस्तकालय में तेजी से वृद्धि हुई, और वैज्ञानिकों की बढ़ती जानकारी की जरूरतों को पूरा करने के लिए यह जैव चिकित्सा अनुसंधान के विभिन्न क्षेत्रों में ई- पुस्तकों, ई- पत्रिकाओं, ऑनलाइन संदर्भ स्रोतों, सामयिक पत्र तथा विभिन्न स्थूल और सूक्ष्म दस्तावेजों जैसी विशेष पठन सामग्री के एक संग्रह के रूप में व्यवस्थित और धीरे-धीरे विकसित हुई। अब इस पुस्तकालय के लिए आवश्यक स्थान अपेक्षाकृत छोटा है जबकि कंप्यूटर और सर्वर मेमोरीइस अति विशिष्ट पुस्तकालय की सूचना संपन्नता को संचित करने के लिए उन्नत प्रौद्योगिकी के साथ विकसित हुई है। एनआईआई पुस्तकालय और प्रलेखन सेवा (एलडीएस) संस्थान के वैज्ञानिकों, छात्रों, परियोजना स्टाफ तथा प्रशिक्षुओं के लिए जरूरी सभी मुद्रित और इलेक्ट्रानिक वैज्ञानिक साहित्य की प्राप्ति, संग्रह, प्रसंस्करण, भंडारण और वितरण के लिए जिम्मेदार हैं। एक समर्थन सेवा इकाई के रूप में, एलडीएस अनुसंधान, शिक्षण और नवाचार को बढ़ावा देने वाले एक गतिशील ई-सूचना वातावरण को तैयार करने का प्रयास करता है। पुस्तकालय के लक्ष्य इस प्रकार हैं:

  1. सूचना संसाधनों की समय से पहुंच के लिए डिजिटल सामग्री प्रबंधन पर बल देते हुए उच्च गुणवत्ता संग्रह को विकसित करना और बनाए रखना।
  2. अनुसंधान और शिक्षा का समर्थन करने वाली सेवाओं और उपकरणों को प्रदान करना। एनआईआई पुस्तंकालय, पुस्तकालय दस्ताओवेज की ऑनलाइन खोज के लिए पुस्तकालय हाउस कीपिंग परिचालन और वेब-ओपीएसी हेतु एकीकृत लिब्सिस लाइब्रेरी ऑटोमेशन सॉफ्टवेयर से सु‍सज्जित है। यह पुस्तिकालय डेलनेट (डेवलपिंग लाइब्रेरी नेटवर्क) का एक सदस्य है तथा डेलकोन (डीबीटी-इलेक्ट्रोनिकपुस्त्कालय संकाय) का एक कोर सदस्य है जो संस्थान को नौ सौ ई-पत्रिकाओं के पूर्ण पाठ की पहुँच प्रदान करता है। अब एलडीएस ने एक संस्थागत संग्रह (आईआर) स्थापित किया है जो दीर्घावधि डिजिटल परिक्षण उद्देश्यों के लिए संस्थापन के अनुसंधान निष्कर्षों को संभाल कर रखता है।

खुलने का समय: एनआईआई पुस्तकालय सभी कार्य-दिवसों में प्रात: 9.30 से 6.00 बजे तक खुलता है।

 

कॉपीराइट © 2012 राष्ट्रीय प्रतिरक्षाविज्ञान संस्थान. सभी अधिकार सुरक्षित.((प्रशासन))

Powered by Egainz