निदेशक

निदेशक

हमारा उत्पाद विकास सेल शोध समूह पिछले 27 सालों से प्रतिरक्षाविज्ञान और आधुनिक जीव विज्ञान के पहलू को स्पिष्टप करने पर लगा हुआ है। प्रारंभिक वर्षों में हमनें प्रोटीन उत्पादन के लिए इम्यूनोडिऑनगॉस्टिक किट, कुष्ठ रोग टीका और पुनः संयोजक किण्वन प्रक्रिया विकसित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी । हमने भारतीय अध्ययन पर ई. कोलाई में पुनः संयोजक प्रोटीन की उच्च अभिव्यक्ति की पहली रिपोर्ट प्रकाशित की है (जे बायोटेक्नोलॉजी, 1 999)। हाल के वर्षों में, हम ज्यादातर शरीर में समावेसित किए जाने वाले प्रोटीन रिफॉल्टिंग पर काम कर रहे हैं। पॉलिमेरिक नैनोपार्टिकल वैक्सीन डिलीवरी सिस्टम का विकास और ऊतक इंजीनियरिंग, अनुप्रयोगों हेतु बहुलक पाड़ के डिजाइन पर आधित है । हमारे समूह के 120 शोध पत्रों, 9 पुस्तक अध्याय और राप्रसं. में 30 पेटेंट शोध पूरी तरह से दस्तावेजों पर आधारित हैं। हमने विकसित की हुई कुछ तकनीकों को व्यावसायीकरण के लिए उद्योग हेतु स्थानांतरित किया है। शरीर में समावेसित नोवल प्रोटीन रिफ़ोल्डिंग प्रक्रिया का विकास हमारे अनुसंधान समूह के उल्लेखनीय परिणामों में रहा है। इस अनिवार्यता में हल्के सोल्यूमबिलाइजेशन (solubilization) प्रक्रिया का उपयोग शामिल है, जिसमें शरीर में समावे‍सित किए जाने वाली प्रोटीन की मौजूदा देशी जैसी संरचना की रक्षा करना है। इन विधियों का उपयोग कई चिकित्सकीय प्रोटीन की उच्च आवृत्ति ठीक करने के लिए किया गया है और जिसे दुनिया भर में व्यापक रूप से उद्धृत किया गया है (जे बायोसाइंसेज और बायोइन्जिनियरिंग, 2005)। ई. कोलाई में, बाडीज में शामिल किए जाने पर अनुसंधान में कैसे पुनः संयोजक प्रोटीन की अभिव्यक्ति के समय नरम और कठिन बोडीज में शामिल की अवधारणा का समर्थन करता है। हमारे अनुसंधान समूह ने पोलिमरिक कणों का उपयोग करते हुए उन्हें वितरित करते समय प्रतिजनों की प्रतिरक्षा को सुधारने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। हमारे शोध समूह की उल्लेखनीय नई खोज : एकल खुराक के टीके का विकास, कमजोर और टी स्वतंत्र प्रतिजनों की बेहतर प्रतिरक्षा, विभिन्न आकार के बहुलक कणों (बायोमैटिरियल्स, 2007) का इस्तेमाल करते हुए प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया का मॉडुलन और बहुलक कण आधारित टीका तैयार करने के लिए एकल खुराक प्रतिरक्षण (बायोमिटेरिअस 200 9, 2012 )। हमने एक नैनो प्रौद्योगिकी आधारित अच्छीर न्यूमोकोकल वैक्सीन का विकास किया है, जिसके लिए वाहक प्रोटीन संयोजन की आवश्यकता नहीं होगी । हमनें थर्मोस्टेबल टीके बनाने के लिए एक सहायक के रूप में शुष्क पाउडर एलम विकसित किया है। इसके अलावा, हमने घाव भरने वाली चिकित्साम के लिए बहुलक झिल्ली संश्लेषण का एक अनौखा तरीका भी विकसित किया है। यह एक कृत्रिम त्वचा विकल्प के रूप में काम करता है जिसे आर्टस्किनी (ARTSKNII.TM )के रूप में नामित किया है ।
 

कॉपीराइट © 2012 राष्ट्रीय प्रतिरक्षाविज्ञान संस्थान. सभी अधिकार सुरक्षित.((प्रशासन))

Powered by Egainz